योगी सरकार ने अपनी नाकामियों पर झाड़ा रुख, जनता को ही बता दिया अकुशल

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सरकारी नौकरी को लेकर एेसा बयान दिया है कि जिसे सुनकर नौजवान सोच में पड़ जाएंगे।

दरअसल योगी ने कहा है कि वे युवाओं को रोजगार देने के लिए प्रतिबद्ध हैं, लेकिन योग्य उम्मीदवार ही नहीं मिल रहे हैं जो आगे आकर परीक्षा पास करें और नौकरी करें।

योगी का कहना है कि जिनकी वैकेंसी थीं उन्हें पहले चरण में भरा जा रहा है। हमें एक लाख 37 हजार शिक्षकों की नियुक्ति करनी है। उन्होंने कहा कि जब हमने 68 हजार वैकैंसी निकाली तो 1 लाख आवेदन भी नहीं मिले। जब टेस्ट हुआ तो केवल 40 हजार ही पास हो पाए।

योगी ने कहा कि एक बार फिर 68,500 की वैकेंसी निकालने जा रहे हैं। हमें 1 लाख 37 हजार शिक्षक रखने हैं लेकिन योग्य उम्मीदवार ही नहीं मिल पा रहे हैं जो आगे आकर परीक्षा पास करें और नौकरी करे।

योगी ने इस दौरान पुलिसभर्ती पर बोलते हुए कहा कि पुलिस में भी हमें 1 लाख 62 हजार भर्ती करनी हैं। 35 हजार की भर्ती जा चुकी है, 42 हजार इस वक्त प्रचलित है, अक्तूबर में 50 हजार भर्ती की प्रक्रिया हम शुरू करने जा रहे हैं।

योगी ने कहा कि सरकारी नौकरी की कहीं कोई कमी नहीं है। इस दौरान योगी ने बताया कि प्रदेश ने इन्वेस्टर समिट के माध्यम से 5 लाख करोड़ के एमओयू साइन किए हैं।

यूपी में बेरोजगारी पर घिरी योगी सरकार, नौकरी के लिए छात्रों ने प्रदर्शन किया!!!सभी बेरोजगार साथियों से निवेदन है कि इस वीडियो को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें।

Posted by अखिलेश यादव UP का शेर।। on Monday, January 22, 2018