सऊदी में रहने वाले हो जाये सावधान, हुआ ये बड़ा कानून लागु

सऊदी अखबार ओकाज़ समाचार साइट की रिपोर्ट में सऊदी अरब के यातायात अधिकारियों ने कारों पर सभी प्रकार के विज्ञापन स्टिकरों पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की है। मंत्रिपरिषद के डिक्री संख्या 6034 की परिषद के तहत किए गए एक निर्णय में, स्टिकर विज्ञापन सेवाओं या उत्पादों वाले किसी वाहन को मौद्रिक दंड या कार की जब्ती के अधीन किया जाएगा।

सऊदी के यातायात अधिकारियों ने कार के बाहरी निकाय पर प्रचार टैग के साथ कंपनियों और दुकानों के स्वामित्व वाले वाहनों की अधिक संख्या में नोटिस लिया। अगर कोई शख्स सऊदी में ऐसी गाड़ी चलाता नज़र आता है जिसमें किसी तरह के विज्ञापन के स्टीकर लगे हो तो उसे कड़ी से कड़ी सज़ा दी जाएगी।

स्टिकर, टेक्स्ट, या ड्रॉइंग (तसवीरें, ग्राफिक्स, आदि …) के रूप में कारों पर देखे जाने वाले किसी भी विज्ञापन को अगले हफ़्ते शुरू करना अवैध माना जाएगा। इस निर्णय में सार्वजनिक परिवहन (बसें और टैक्सी) और अन्य प्रकार के वाहन शामिल हैं।

आपको बता दें की, सभी कारों को लागू नियमों का पालन करना होगा। खबरों को ट्विटर पर विभिन्न समाचार पत्रों द्वारा साझा किया गया था, इस तरह के फैसले की आवश्यकता के बारे में बताने के लिए जागरूक किया जा रहा है।

सउदी अरब मध्यपूर्व में स्थित एक सुन्नी मुस्लिम देश है। यह एक इस्लामी राजतंत्र है जिसकी स्थापना १७५० के आसपास सउद द्वारा की गई थी। यहाँ की धरती रेतीली है तथा जलवायु उष्णकटिबंधीय मरुस्थल। यह विश्व के अग्रणी तेल निर्यातक देशों में गिना जाता है।

सउदी अरब के पश्चिम की ओर लाल सागर है और उसके पार मिस्र। दक्षिण की ओर ओमान और यमन हैं और उनके दक्षिण में हिन्द महासागर। उत्तर में इराक और जॉर्डन की सीमा लगती है जबकि पूरब में फारस की खाड़ी और कुवैत तथा संयुक्त अरब अमीरात। इसरायल-फ़िलिस्तीन का क्षेत्र इसके उत्तर की दिशा में है और अरबों ने इसके इतिहास को बहुत प्रभावित किया है।