शर्मनाक : रेल मंत्री ने सिर्फ इस्लाम का नाम लेकर पेश किये हिंसा के आंकड़े तो पत्रकार ने दिया ऐसा करारा जवाब

लंबे समय से मुसलमान यह कहता आ रहा है कि माई नेम इज खान बट आई एम नॉट टेरेरिस्ट लेकिन इस सबके बावजूद कुछ लोग हैं जो आतंकवाद को धर्म से जोड़ते रहते हैं, धर्म से भी सिर्फ इस्लाम धर्म से ही जोड़ते हैं। तभी दुनिया की डिक्शनरी में इस्लामिक आतंकवाद के अलावा कोई दूसरा शब्द नही है। केन्द्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल इस्लामिक आतंकवाद शब्द का इस्तेमाल करके विवादो में घिर गये हैं।

बता दें कि पीयूष गोयल ने कहा था कि इस्लामिक आतंकवाद के विरुद्ध कठोर कार्यवाही से देश में आतंकी घटनाओं में मारे जाने वाले नागरिकों की संख्या में उल्लेखनीय कमी आई है, जहाँ UPA सरकार के शासनकाल में 750 नागरिक आतंकवाद का शिकार बनें, वहीं अब यह संख्या घटकर 4 रह गयी है।

केन्द्रीय मंत्री के इस ट्वीट पर युवा पत्रकार वसीम अकरम त्यागी ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है, उन्होंने केन्द्रीय मंत्री द्वारा आतंकवाद में इस्तेमाल किये गये इस्लामिक शब्द से आपत्ती जताई है। उन्होंने कहा कि केन्द्रीय मंत्री पीयूष गोयल कह रहे हैं कि मोदी सरकार ने ‘इस्लामिक आतंकवाद’ पर रोक लगाई है मेरी आपत्ती सिर्फ ‘इस्लामिक’ शब्द है। क्या मंत्री महोदय गाय के नाम पर की जा रही हत्याओ को हिन्दु आतंकवाद कहने का माद्दा रखते है? या सारी बयानबहादुरी सिर्फ अल्पसंख्यको के लिये ही ?

उन्होंने कहा कि मंदिर से ऐलान करके अखलाक की हत्या की जाती है, छाती ठोक कर आतंकवाद को इस्लामिक आतंकवाद कहने वाले पीयूष गोयल क्या इसको हिन्दू आतंकवाद कहने कहने का माद्दा रखते है? गाय के नाम पर तीन साल मे 56 लोगो की हत्या हुई क्या इसको हिन्दु आतंकवाद कहा जायेगा ? पीयूष गोयल जवाब दो।

उन्होंने लगातार कई ट्वीट किये और केन्द्रीय मंत्री पर सवालों की बौछार कर दी, उन्होंने सवाल किया कि मोहम्मद अफराजुल को हिन्दु ‘बहनो’ का स्वंयघोषि ‘रक्षक’ शंभूलाल रेगर जिंदा जलाकर मार देता है ISIS के आतंकियो की तरह वह उसका वीडियो बनाता है,फिर भगवाधारी उस बर्बर हत्या के समर्थन मे रैली निकालते है, पुलिस को पीटते है, उसकी झाकी निकालते है क्या पीयूष गोयल इसको हिन्दू आतंकवाद कहेंगे?

वसीम अकरम त्यागी ने कहा कि आठ साल की एक बच्ची आसिफा उसका मंदिर परिसर मे बलात्कार और हत्या सिर्फ इसलिये कर दी गई क्योंकि वह ‘आसिफा’ थी ‘अंजली’ नही, फिर बलात्कारियो को बचाने के लिये तिरंगा यात्र निकाली गई उसमें मंत्री विधायक शामिल होता है, बलात्कारी का समर्थन करता है पीयूष गोयल इसको हिन्दु आतंकवाद कहोगे?