आज से शुरू हुआ हज का मुकद्दस सफ़र, इतने लाख हाजी हुए एकजुट

दुनिया भर के लाखों मुसलमान वार्षिक हज से पहले सउदी अरब के मक्का शहर में इकट्ठे हुए। समाचार एजेंसी एफे की रिपोर्ट के अनुसार, दुनियाभर के मुस्लिम श्रद्धालुओं के लिए सबसे पवित्र स्थल मक्का के काबा के प्रार्थना स्थल पर मुस्लिम प्रार्थना कर रहे हैं। दुनिया भर के मुसलमान हज करने के लिए प्रतिवर्ष यहां आते हैं।

सउदी अरब प्रशासन ने इससे पहले घोषणा की थी कि इस वर्ष रविवार को शुरू हो रहे हज के लिए 16 लाख से ज्यादा लोग पवित्र शहर पहुंच चुके हैं।

हज एवं उमरा मंत्री मोहम्मद बेंतेन ने कहा कि कतर के हज यात्री कुवैत होते हुए यहां पहुंचे हैं। उन्होंने जोर देते हुए कहा कि कतर के नागरिकों के हज करने पर कोई रोक नहीं लगाई गई है।

रियाद ने पिछले साल जून में आतंकवाद को धन मुहैया कराने का आरोप लगाते हुए कतर के साथ सभी प्रकार के आर्थिक और यातायात संपर्क खत्म कर दिए थे।

हज इस्लाम के पांच स्तंभों में से एक है और यह उन सभी के लिए अनिवार्य है जिनकी आर्थिक व शारीरिक स्थिति इसे करने की है।

जेद्दा स्थित भारतीय वाणिज्य दूतावास के अनुसार 466 उड़ानों के जरिये भारतीयों को वार्षिक हज के लिए लाया गया है जबकि आखिरी उड़ान शुक्रवार सुबह पहुंची।

इस साल भारत से रिकॉर्ड 1,75,025 मुस्लिम हज के लिए पहुंचे हैं। इस साल हज पर आने वाले कुल हज यात्रियों में से 47 प्रतिशत से अधिक महिलाएं हैं। यह भारत से हज के लिए महिलाओं की सबसे अधिक संख्या है।

बीते साल तक किसी भी मुस्लिम महिला के लिए हज यात्रा पर उसके साथ उसके पति या मेहरम (जिसके साथ विवाह निषिद्ध है) का रहना जरूरी था। इस साल पहली बार भारतीय महिला किसी पुरूष रिश्तेदार के बिना हज यात्रा पर आई हैं। यह पहला साल है जब हज यात्रा के लिए सब्सिडी उपलब्ध नहीं कराई गई है। अधिकारियों ने बताया कि इस साल कुल 1,28,702 भारतीय हजयात्रियों को सरकार ने हज कमेटी के जरिये हज के लिए सुविधा प्रदान की है।

ऐक नजर हाजीयों के इस सहलाब को भी देख लो ❤#माशा #अल्लाह #सुब्हान #अल्लाह 😍👇अल्लाह हम सब को हज करने की तौफीक दे आमीन ❤

Posted by Sattar Hashmi on Sunday, August 19, 2018