तुर्की ने अमेरिका के खिलाफ लिया ये एक्शन, ट्रम्प को दिया जोरदार झटका

अमेरिकी पादरी की गिरफ़्तारी से बिगड़े तुर्की और अमेरिका के रिश्तों में तनाव बढ़ता ही जा रहा है। अमेरिका के प्रतिबंधो और धमकियों के जवाब में अब तुर्की ने अमेरिका के क़ानून और गृहमंत्री की संपत्ति सील करने की घोषणा कर दी है।

तुर्की राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोआन ने टीवी पर प्रसारित किए एक भाषण में कहा, ‘‘अगर अमेरिका के न्याय और आंतरिक मामलों के मंत्रियों की तुर्की में कोई संपत्ति है तो आज मैं अपने दोस्तों उन्हें जब्त करने के निर्देश दूंगा।’’ उन्होंने कहा कि अमरीका में तुर्की के क़ानून और गृहमंत्री की संपत्तियां सील करने की अमरीकी सरकार की कार्यवाही, तुर्की का अपमान है।

बता दें कि वाइट हाऊस की प्रवक्ता सारा सेन्डर्ज़ ने घोषणा की है कि तुर्की के गृहमंत्री सुलैमान सुवैलू और क़ानून मंत्री अब्दुल हमीद गुल चूंकि अमरीकी पादरी की गिरफ़्तारी में लिप्त रहे हैं इसीलिए अमेरिकी वित्तमंत्रालय ने उन पर प्रतिबंध लगा दिया।

स्पूतनिक न्यूज़ एजेन्सी की रिपोर्ट के अनुसार तुर्क राष्ट्रपति रजब तैयब अर्दोग़ान ने कहा है कि अमरीका में तुर्की के क़ानून और गृहमंत्री की संपत्तियों को सील किए जाने के जवाब में अंकारा सरकार ने भी तुर्की में, अमरीका के क़ानून और गृहमंत्री की संपत्तियां सील करने का फ़ैसला किया है।

उन्होंने कहा कि अमरीका में तुर्की के क़ानून और गृहमंत्री की संपत्तियां सील करने की अमरीकी सरकार की कार्यवाही, तुर्की का अपमान है। अमरीका ने कुछ दिन पहले तुर्की के गृह और क़ानूनी मंत्री पर प्रतिबंध की घोषणा की थी।

ज्ञात रहे कि तुर्की में एक अमरीकी पादरी की गिरफ़्तारी के बाद अमरीकी सरकार ने पहले तुर्क सरकार से उसकी रिहाई की मांग की और फिर तुर्की के गृह और क़ानून मंत्री पर प्रतिबंध लगा दिया।

वाइट हाऊस की प्रवक्ता सारा सेन्डर्ज़ ने घोषणा की है कि तुर्की के गृहमंत्री सुलैमान सुवैलू और क़ानून मंत्री अब्दुल हमीद गुल चूंकि अमरीकी पादरी की गिरफ़्तारी में लिप्त रहे हैं इसीलिए अमरीकी वित्तमंत्रालय ने उन पर प्रतिबंध लगा दिया।