मेरठ: यूपी में फिर मचा जातिवाद, दलितों और गुर्जरों में छिड़ी जबरदस्त जंग

यूपी में जबसे योगी आदित्यनाथ की सरकार बनी है जातिवादी दंगों की बाढ़ आ गई है। सहारनपुर के दंगों से अभी राज्य उबरा भी नहीं था कि मेरठ में जातिवादी दंगा शुरू हो गया है। खबर के अनुसार, मेरठ के दौराला के लोइया गांव में कमेंट को लेकर कहासुनी के बाद दलित और गुर्जरों के बीच संघर्ष हो गया।

फायरिंग और पथराव से अफरातफरी मच गई। संघर्ष में एक पक्ष से आधा दर्जन घायल हो गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह मामले को शांत कराया। दलित पक्ष ने थाना दौराला पर तहरीर दी है।

पुलिस के अनुसार, दौराला थाना क्षेत्र के गांव लोइया में दलित समाज के राहुल और उसके पड़ोसी पंकज घर के बाहर बैठे हुए थे। तभी गुर्जर पक्ष से अपनी रिश्तेदारी में आया रोहित वहां से निकल रहा था। रोहित का आरोप है कि दोनों ने उस पर कमेंट कर दिया। इसके बाद कहासुनी हो गई। मामला बढ़ने से पहले ही वहां पुलिस पहुंच गई और दोनों पक्षों को शांत कराया।

राहुल और पंकज का आरोप है कि पुलिस के जाने के बाद रोहित अपने साथी गजे सिंह, मोहित, अंकित के साथ घर पर पहुंचा और मारपीट कर पथराव कर दिया। दोनों पर धारदार हथियार से हमला बोल दिया। हमले में राहुल, पंकज, लालमन समेत छह लोग घायल हो गए।

आरोपी पक्ष फायरिंग करते हुए फरार हो गया। संघर्ष की सूचना पर इंस्पेक्टर दौराला दिनेश सिंह फोर्स के मौके पर पहुंचे। घायलों को सीएचसी में भर्ती कराया गया है। राहुल के पिता बुद्ध सिंह ने रोहित, गजे सिंह, मोहित अंकित समेत कई अज्ञात के खिलाफ तहरीर दी है। ग्रामीणों का कहना है कि कमेंट को लेकर विवाद शुरू हुआ और देखते ही देखते संघर्ष में बदल गया। पहले पथराव फिर धारदार हथियार और जमकर लाठी-डंडे चले। पुलिस समय से न पहुंचती तो विवाद और भी बढ़ सकता था।

वहीं इंस्पेक्टर दौराला दिनेश सिंह का कहना है कि दोनों पक्षों में कहासुनी को लेकर विवाद हुआ। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई थी। तहरीर के आधार पर रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है। फायरिंग की जांच की जा रही है। अभी एक पक्ष ही थाने पर आया है, दूसरे पक्ष को भी बुलाया गया है।

आपको बता दें कि सहारनपुर के सड़क दूधली गांव में भी दलितों और ठाकुरों के बीच जातिवादी संघर्ष हुआ था। जिसमें दो दलितों की मौत हो गई थी। ठाकुरों ने दलितों के साठ से ज्यादा घरों में आग लगा दी थी।

मेरठ में जातिवाद का जहर कौन घोल रहा है? दलित और ठाकुरों के अपने-अपने दावे

मेरठ में जातिवाद का जहर कौन घोल रहा है? दलित और ठाकुरों के अपने-अपने दावे

Posted by ABP News on Tuesday, August 14, 2018